मंगलवार, 18 सितंबर 2012

'महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी' का पुरस्कार समारोह संपन्न

हिंदी दिवस के अवसर पर मुंबई 'महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी' द्वारा पुरस्कार समारोह का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर जगदंबा दीक्षित को 'अखिल भारतीय हिंदी सेवा पुरस्कार' और धर्माधिकारी को 'डॉ राममनोहर त्रिपाठी हिंदी सेवा पुरस्कार' प्रदान किया गया है । उन्हें एक-एक लाख रुपये, प्रतीक चिह्न व सम्मानपत्र प्रदान किया गया।

'महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी' ५१ हजार रुपये के आठ राज्यस्तरीय पुरस्कार डॉ. सूर्यबाला (मुंबई), प्रा.सु.मो. शाह (पुणे), डॉ. विजय कुमार (नवी मुंबई), श्रीमती लीना मेंहदले ( पुणे), डॉ. निशिकांत ठकार (सोलापूर), श्रीमती सुधा अरोडा (मुंबई), रमेश राजहंस (मुंबई) तथा अचला नागर (मुंबई) को प्रदान किये गए ।

विधा पुरस्कार पानेवाले १२ साहित्यकार हैं- काव्य- चंद्रकात पाटील (औरंगाबाद), कुमार शैलेन्द्र (अंधेरी) व सुरेश कुसूंबीवाल (जलगांव); उपन्यास- डॉ. कृष्णा श्रीवास्तव (नागपुर ); कहानी- डॉ. आशा पांडेय (अमरावती); निबंध- ओमप्रकाश शिव (नागपुर) व नारायण कदम (पनवेल); समीक्षा- डॉ. विजया (नवी मुंबई) व डॉ. हणमंतराव पाटील (औरंगाबाद); अनुवाद- डॉ. सुनील देवधर (पुणे); वैज्ञानिक तकनीकी लेखन- डॉ. रमाकांत शर्मा (मुंबई); हिंदी भाषा- डॉ. करुणाशंकर उपाध्याय (मुंबई) ।

सुप्रतिष्ठित कथाकार एवं व्यंग्यकार सूर्यबाला को महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादेमी के राज्यस्तरीय छत्रपति शिवाजी राष्ट्रीय एकता पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर, शाल, श्रीफल , स्मृतिचिन्ह तथा पुरस्कार स्वरुप इक्यावन हज़ार रुपए की राशि उन्हें महाराष्ट्र के सांस्कृतिक कार्य मंत्री श्री संजय देवतले तथा राज्य मंत्री श्रीमती फौजिया खान के हाथों प्रदान की गयी।

समारोह के प्रारंभ में सदस्य सचिव श्री अनुराग चतुर्वेदी तथा कार्याध्यक्ष डॉ दामोदर खडसे ने महाराष्ट्र राज्य हिंदी अकादमी के कार्यकलापों तथा भावी योजनाओं का परिचय दिया। समारोह का सञ्चालन अनुया दलवी एवं मधुलता व्यास ने किया तथा आभार प्रदर्शन मीनल जोगलेकर ने किया। उक्त अवसर पर सांस्कृतिक मुख्य सचिव श्री आनंद कुलकर्णी, गुजराती एवं उर्दू अकादमियों के कर्वाध्यक्ष तथा भारी संख्या में हिंदी एवं मराठी के साहित्य प्रेमी उपस्थित थे।

1 टिप्पणी:

वन्दना ने कहा…

सभी को हार्दिक बधाई।